HomeNewsसड़क दुर्घटना में हुए शख्स की मौत, परिवार ने किया अंगदान का...

सड़क दुर्घटना में हुए शख्स की मौत, परिवार ने किया अंगदान का फैसला, हर्ष सांघवी परिवार से मिले


20 तारीख को सूरत के हजीरा रोड पर हुए हादसे में धर्मेंद्र सिंह राजपूत नाम के शख्स की हादसे में मौत हो गई

आज देश और दुनिया में अंगदान को लेकर लोगों में जागरूकता बढ़ रही है। लोग मरने के बाद दूसरों के काम आने के लिए अपने अंग दान कर रहे हैं। ऐसे ही एक मामले में सूरत के एक परिवार ने अपने परिवार के सदस्य की मृत्यु के बाद किडनी, लीवर दान किया और तीन को नया जीवन दिया। दिवाली के मौके पर परिवार की ओर से दो किडनी और एक लीवर दान किया गया है। दरअसल पिछले 20 तारीख को सूरत के हजीरा में सड़क हादसे में मारे गए धर्मेंद्र सिंह के परिवार ने अंगदान कर नेक काम किया है। परिवार ने दो किडनी और एक लीवर दान करते हुए तीन और लोगों को नया जीवन दिया। उस समय गृह राज्य मंत्री हर्ष सांघवी परिवार से मिलने सिविल अस्पताल पहुंचे। वहां उन्होंने कहा कि उन्होंने त्योहार के दौरान सबसे अच्छा काम किया है। मैं प्रार्थना करता हूं कि भगवान परिवार को इस दर्द को सहन करने की शक्ति दें।

See also  वड़ोदरा : 75 साल की उम्र में काम करने के लिए मजबूर बुजुर्ग की टीम अभयम ने मदद की | वड़ोदरा

एक सड़क दुर्घटना में उनकी मृत्यु हो गई

मामले के अनुसार 20 तारीख को सूरत के हजीरा रोड पर हुए हादसे में धर्मेंद्र सिंह राजपूत नाम का शख्स गंभीर रूप से घायल हो गया। उसे इलाज के लिए सिविल अस्पताल ले जाया गया। इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। धर्मेंद्र सिंह राजपूत के परिवार में पत्नी, बेटा और एक बेटी है। त्योहार के दौरान जब घर की मां की हादसे में मौत हो गई तो परिवार में कोहराम मच गया और परिवार मातम में था। इन सबके बीच परिवार ने समाज में बेहतरीन मिसाल कायम करने का काम किया है। परिवार ने महेंद्र सिंह राजपूत के तीन महत्वपूर्ण अंगों को दान कर अन्य तीन को नया जीवन देने का काम किया है। महेंद्र सिंह की पत्नी इंदु राजपूत ने कहा कि मेरे पति की एक दुर्घटना में मौत के बाद उनकी जान नहीं बचाई जा सकी, लेकिन उनके शरीर को दान कर यह फैसला लिया गया है ताकि दूसरे अपना जीवन जी सकें। अपने पति को नहीं बचा सकी लेकिन उनके माध्यम से दूसरों को बचाने पर गर्व होगा।

See also  वडोदरा : आवारा कुत्तों का आतंक, 10 कुत्तों ने वृद्धा के हाथ, पैर और छाती के भाग में काटा

अंग दाता के परिवार से मिलने पहुंचे हर्ष सांघवी

अंगदान करने वाले महेंद्र सिंह राजपूत के परिवार के पास पहुंचे गृह राज्य मंत्री हर्ष सांघवी। हर्ष सांघवी ने परिवार के साथ शोक व्यक्त किया। इस दौरे के बाद हर्ष सांघवी ने कहा कि अंगदान में गुजरात और सूरत सबसे आगे रहे हैं। महेंद्र सिंह राजपूत की सड़क हादसे में मौत हो गई। मैं उनके परिवार से मिला हूं। उनके परिवार में बेटा, बेटी और पत्नी है। पति और पत्नी एक बहुत ही साधारण वर्गीय जीवन जी रहे थे। दोनों कमाकर परिवार का भरण पोषण कर रहे थे।

दीपावली पर्व पर अंगदान कर परिवार ने किया बेहतरीन काम : हर्ष संघवी

परिवार से मिलने के बाद आगे कहा गया कि दुख की इस घड़ी में भी परिवार ने अंगदान का फैसला कर बहुत नेक काम किया है। दिवाली के त्योहार के दौरान परिवार का यह प्रदर्शन बहुत ही बेहतरीन और काबिले तारीफ है। उन्होंने अंगदान कर तीन लोगों को नया जीवन देने का बेहतरीन काम किया है। मैं प्रार्थना करता हूं कि ईश्वर परिवार को इस दुख को सहने की शक्ति प्रदान करें। मैं इस परिवार को हाथ जोड़कर प्रणाम करने आया हूं। उन्होंने किडनी और लीवर दान कर बहुत अच्छा काम किया है।

See also  चाय बनाने के बाद जिन पत्तियों को बेकार समझकर फैंक देते हैं हम, वो हैं बड़ी काम की चीज, आइये जानते है कैसे..! | ज़रा हटके, फिचर

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read