HomeNewsसूरत : हजीरा में 14 साल की बेटी का शव दफनाने गए...

सूरत : हजीरा में 14 साल की बेटी का शव दफनाने गए पिता को पुलिस ने पकड़ा


सूरत के हजीरा इलाके में मंगलवार आधी रात को दिल दहला देने वाली घटना हुई। सुनसान जगह पर गड्ढा खोदकर 14 वर्षीय किशोरी के शव को दफनाने का प्रयास किया गया तो स्थानीय लोगों ने इसकी सूचना पुलिस को दी और मौके पर पहुंचे। पुलिस जब मौके पर पहुंची तो दुल्हन को सजाए लाल कपड़े पहने युवती का शव जमीन पर पड़ा हुआ था और कुछ लोग पास में ही खाई खोद रहे थे।

पुलिस ने पूछताछ की तो चौंकाने वाला तथ्य सामने आया। सगा बाप अपनी 14 साल की बेटी के शव को दफनाने की कोशिश कर रहा था। पिता ने पुलिस को बताया कि बेटी ने आत्महत्या की है।

अंधेरे में बच्ची की संदिग्ध दफनविधी, शव का पीएम किया, ट्रेक्टर जब्त 

See also  सूरत : अदाणी फाउंडेशन हजीरा ने अनोखे अंदाज में ‘युवा दिवस’ मनाया

मिली जानकारी के अनुसार हजीरा गांव में रहने वाली 14 वर्षीय किशोरी की कल मौत हो गयी। परिजन रात के अंधेरे में ट्रैक्टर में बच्ची के शव को लेकर अंतिम संस्कार के लिए रवाना हो गए। हजीरा बंदरगाह के पास एक खुली बंजर भूमि में नायको कंपनी के गेट के पास शवों को छोड़कर परिवार लाश को दफनाने के लिए गड्डा खोद रहे थे। जब स्थानीय लोगों को पता चला कि रात के अंधेरे में एक शव को दफनाया जा रहा है तो स्थानीय लोगों ने इसकी सूचना पुलिस को दी, इसलिए हजीरा पुलिस मौके पर पहुंची।

घटनास्थल पर एक परिवार बच्ची के शव को दफनविधि करता नजर आया। पुलिस ने तुरंत शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया। जिस ट्रैक्टर से शव लाया गया था उसे भी पुलिस ने जब्त कर लिया है।

See also  दिल्ली के पूर्व डिप्टी सीएम के परिवार को सरकारी आवास खाली करने का आदेश | भारत

किशोरी के शव को संदिग्ध रूप से दफनाया जा रहा था

हजीरा पुलिस सूत्रों ने बताया कि शव को कब्जे में ले लिया गया है। किशोरी के शव को उसके परिजन संदिग्ध रूप से दफनाने का प्रयास कर रहे थे। परिवार मूल रूप से बिहार का रहने वाला है। लड़की के पिता चंदन मजदूर का काम करते हैं।

पिता ने आपबीती बताई है कि बेटी ने फांसी लगाकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली। उन्हे किसी के खिलाफ शिकायत नही करनी थी इस लिए रस्म के अनुसार बेटी को दफनाने के लिए निकले थे। यह भी कहा जाता है कि कम उम्र में मरने वाले बच्चों को दफनाने की प्रथा है।

See also  सूरत : डिंडोली की कॉलेज छात्रा को इंस्टाग्राम पर भद्दे संदेश भेजने वाले को खोज रही पुलिस

14 साल की बच्ची आत्महत्या क्यों करेगी?

14 साल की बच्ची के शव को अंधेरे में दफनाने की प्रक्रिया को लेकर हजीरा गांव में काफी चर्चा हो रही है। आशंका जताई जा रही है कि किशोरी की प्राकृतिक मौत नहीं हुई है। 14 साल की छोटी उम्र में एक किशोरी को आत्महत्या क्यों करना चाहिए? उसका कारण क्या था? उसको लेकर भी कई तरह की चर्चाएं चल रही हैं। हजीरा पुलिस फिलहाल जांच कर रही है। जांच के बाद ही सच्चाई सामने आएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read