HomeNewsसूरत : शहर का पहला पुल जहां भारी व्यवसायिक वाहनों को प्रवेश...

सूरत : शहर का पहला पुल जहां भारी व्यवसायिक वाहनों को प्रवेश नहीं  दिया जाएगा


सूरत नगर निगम के लिंबायत जोन में डुंभाल माधवबाग खाडी पर अवैध पुल को हटा दिया गया है और इसके स्थान पर एक नया पुल बनाया है। गुरूवार को इसका उद्घाटन किया गया। यह सूरत शहर का पहला पुल है जहां केवल हल्के चार पहिया वाहनों को प्रवेश की अनुमति होगी जबकि वाणिज्यिक भारी वाहन इस पुल का उपयोग नहीं कर सकेंगे। 

पुराने खाडी ब्रिज को बिल्डर ने बिना अनुमति के बनाया था

सूरत नगर निगम और टी.पी. के दक्षिण पूर्व (लिम्बायत) जोन क्षेत्र में टीपी नंबर 64 (मगोब डुंभाल) एफपी नंबर 95 (रंगवधूत सोसाइटी के दक्षिण में ) टीपी. 19 ( परवत – मागोब) फा. प्लॉट नंबर 1 माधवबाग सोसाइटी के उत्तर में खाडी ब्रिज पर्वत पटिया को पर्वत गांव से जोड़ने वाली सड़क के पास स्थित है। इस पुल को उस समय बिना नगर पालिका की अनुमति के बिल्डर ने बना दिया था। नाले के ऊपर बने इस पुल की संकरी चौड़ाई के अलावा, नाले में उठे खंभों के कारण, मानसून के दौरान पानी बाधित हो जाता था और क्षेत्र में बाढ़ आ जाती थी।

See also  2017 ની ચૂંટણીંમાં સુરતમાં 13 લાખ મતદારોએ મતદાન કર્યું નહોતું

आरसीसी का पुल बनाते तो खाडी में पिलर आत इस लिए लोहे के स्ट्रक्चर का इस्तेमाल किया

इस स्थान पर नाला तटबंध परियोजना के तहत नाले का पुनर्विकास किया गया था जिसमें इस स्थान पर खाड़ी की चौड़ाई लगभग 20.00 मीटर थी। लेकिन पुल के कारण यह खाड़ी पर्याप्त चौड़ी नहीं हो सकी। लिहाजा, इस संबंध में आसपास के सोसायटी के निवासियों को मानसून में जलभराव की शिकायत मिलती रहती थी। इसलिए इस पुराने बीज को हटाकर उसके स्थान पर एक नया पुल बनाने की योजना बनाई गई। जिसका उद्घाटन आज गुरूवार को पुल का काम पूरा होने के बाद किया गया। यदि इस स्थान पर आरसीसी पुल बनाया जाता है तो खाड़ी के अंदर खंभों के साथ निर्माण करना होगा, यदि ऐसा होता है तो फिर से पानी भरने की समस्या उत्पन्न हो जाएगी। लिहाजा नगर पालिका ने इस स्थान पर लोहे का पुल बनाकर यातायात की समस्या का समाधान किया है।

See also  सूरत : इलाज में देरी हुई तो गुस्साये मरीज ने नर्स पर जानलेवा हमला कर दिया, CCTV फुटेज सामने आया

मात्र हल्के वाहन इस पुल से गुजरेंगे

इस पुल के उद्घाटन के बाद हल्के चार पहिया वाहनों को ही पुल से गुजरने दिया जाएगा। इस पुल से भारी व्यवसायिक वाहनों को नहीं गुजरने दिया जाएगा। सूरत नगर पालिका ने अपनी तरह का पहला पुल बनाया है, जिस पर से व्यावसायिक वाहन नहीं गुजर सकेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read