HomeNewsसूरत : जानिए ऐसा क्या हुआ कि डायमंड के 50 प्रतिशत ऑफिस...

सूरत : जानिए ऐसा क्या हुआ कि डायमंड के 50 प्रतिशत ऑफिस एंटवर्प से दुबई शिफ्ट होने लगे


2022 की गर्मियों में जेम एंड ज्वैलरी इंडस्ट्री को उस वक्त झटका लगा जब जेमोलॉजिकल इंस्टीट्यूट ऑफ अमेरिका (जीआईए) ने अपनी एंटवर्प प्रयोगशाला को बंद कर दुबई में नया ऑफिस खोला। इसी तरह, एंटवर्प स्थित स्टार जेम्स ने अपना मुख्य कार्यालय दुबई में स्थानांतरित कर दिया है और शहर में नियमित रूप से कच्चे हीरे की निविदाएं आयोजित की हैं। 

दुबई शिफ्ट हो रहा हीरा कारोबार

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार संयुक्त अरब अमीरात सरकार ने एंटवर्प से दुबई तक रत्न और आभूषण उद्योग के व्यापारिक केंद्र को स्थानांतरित करने के लिए एकल खिड़की प्रणाली के साथ व्यापार करने में आसानी के लिए कई प्रोत्साहनों की घोषणा की थी। उधर, बेल्जियम के एंटवर्प में उद्योग पर कैरेट टैक्स, लेबर चार्ज में बढ़ोतरी, महंगी संपत्ति और गैस की आपूर्ति के कारण मुनाफे का मार्जिन कम होने पर सूरत-मुंबई समेत देश के प्रमुख रत्न और आभूषण उद्योगों ने 2017 से 2022 तक अपना 50 फीसदी हीरे के कार्यालय दुबई में स्थानांतरित कर दिया है।  

दुबई से दुनिया के कई देशों से हवाई संपर्क

See also  લિંબાયત ઝોનના ઉમરવાડામાં પાલિકાની જગ્યા પર ખાનગી ટ્રસ્ટ ચાલતા પે એન્ડ પાર્ક પર સુરત પાલીકાએ તાળા લગાવ્યા

रिपोर्ट में कहा गया है कि तैयार हीरे जो ब्रसेल्स से स्विट्जरलैंड सहित यूरोपीय देशों में जाते थे, अब दुबई से जा रहे हैं। दुबई से दुनिया के कई देशों से हवाई संपर्क होने के कारण दुबई और अबू धाबी में यह व्यापार आसान हो गया है। हालांकि, सूरत-मुंबई हीरा कंपनियों ने कच्चे हीरे के व्यापार और नीलामी के लिए निवास-सह-कार्यालय बनाए रखे हैं। संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) ने हीरा उद्योग के लिए आगे बढऩे के स्पष्ट संकेत दिए थे।

 

कोरोनाकाल के बाद तेजी से बढ़ा दुबई में कारोबार

दुबई के कारोबार में कोविड-19 महामारी के बाद से तेज वृद्धि देखी गई है। दुबई मल्टी कमोडिटी सेंटर (डीएमसीसी) के अनुसार, पिछले साल का कच्चा निर्यात 2020 की तुलना में 98 प्रतिशत बढ़कर 12.96 बिलियन डॉलर हो गया, जो 2019 के आंकड़े से 62 प्रतिशत अधिक था। पॉलिश निर्यात साल-दर-साल 70 प्रतिशत बढ़कर 4.15 बिलियन डॉलर हो गया। जबकि डीएमसीसी ने अभी तक 2022 के लिए विस्तृत डेटा प्रकाशित नहीं किया है, कैरेट टैक्स हीरा क्षेत्र के लिए 2017 में पेश किया गया था। लेकिन इस विशेष कर प्रणाली ने बेल्जियम की संघीय सरकार को उम्मीद से बहुत कम राजस्व दिया है।

See also  वड़ोदरा : अब पुलिसकर्मी रहेंगे फिट एवं हीट,  पुलिस भवन में 20 लाख की लागत से तैयार हो रहा जिम 

टार्गेट से कम प्राप्त हुआ कर का भुगतान

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार कर की पहली मूल्यांकन रिपोर्ट से पता चला है कि देश के 1,200 या इतने हीरा व्यापारियों ने 2020 कर वर्ष के लिए कर में 28 मिलियन यूरो का भुगतान किया है, जो 70 यूरो मिलियन के लक्ष्य से काफी कम था। बेल्जियम में कर योग्य हीरा कंपनियों की संख्या 2017 में 1,445 से गिरकर 2020 में 1,220 हो गई। यह संख्या 2022 के अंत में और कम हो गई है।

दुबई अफ्रीकी खनन देशों और यूरोपीय वाणिज्यिक केंद्रों के लिए अच्छा

दुबई के लिए मुंबई और तेल अवीव से तीन घंटे की उड़ान है, और पास के संयुक्त अरब अमीरात शहर शारजाह और भारतीय विनिर्माण केंद्र सूरत के बीच सीधी उड़ानें हैं। दुबई अफ्रीकी खनन देशों और यूरोपीय वाणिज्यिक केंद्रों के लिए भी अच्छी तरह से स्थित है। यूएई ने अपनी स्थिति को और मजबूत करने के लिए 2020 में एक बड़ा कदम उठाया, जब यूएई ने इजरायल के साथ एक संधि पर हस्ताक्षर किए जिसने देशों के बीच हीरा व्यापार का द्वार खोल दिया। एंटवर्प की तुलना में दुबई में बैंक ऋण प्राप्त करना आसान है। शिफ्टिंग के लिए वह वजह भी अहम है। कोरोना में एंटवर्प और बोत्सवाना लॉक डाउन के कारण बंद थे। उस समय सबसे ज्यादा हीरे की नीलामी दुबई में हुई थी।

See also  सूरत : गलती से तेजाब पीने से एक साल की बच्ची की पांच दिन के बाद मौत हो गई | सूरत

एंटवर्प ने जो दशकों में व्यापार किया वह दुबई ने महज वर्षो में कर दिखाया

यूएई सरकार ने 2002 में डीएमसीसी की स्थापना की, जो हीरे से लेकर कॉफी तक के उत्पादों की श्रेणी में व्यापार के लिए बुनियादी ढांचा प्रदान करता है। एक्सचेंज 22 वर्षों में एंटवर्प के दशक पुराने व्यापार स्तर पर पहुंच गया है। दुबई डायमंड सम्मेलन में अफ्रीकी देश के खनिज संसाधन और पेट्रोलियम मंत्री डायमेंटिनो अज़ीवेदो ने कहा पिछले दो वर्षों में, अंगोला अपने कच्चे माल का लगभग 90 प्रतिशत संयुक्त अरब अमीरात को निर्यात कर रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read