HomeNewsसूरत की सरकारी स्कूल में अनोखा प्रयोग, फास्ट फूड से दूर, हर...

सूरत की सरकारी स्कूल में अनोखा प्रयोग, फास्ट फूड से दूर, हर बुधवार “फल दिवस” | सूरत News



आजकल जब बच्चे फास्ट फूड की ओर रुख कर रहे हैं, ऐसे में उन्हें स्वस्थ भोजन के प्रति जागरूक करने के लिए शिक्षा समिति के एक स्कूल ने अनोखी पहल की है। सूरत के पालनपुर इलाके के कविश्री उशनस प्राइमरी स्कूल नंबर 318 में हर बुधवार को “फल दिवस” मनाने का निर्णय लिया गया है।

इस पहल के तहत, हर बुधवार को सभी छात्र घर से एक फल लाएंगे और शिक्षक भी अपने घर से फल लाकर लाएंगे। दूसरे पीरियड के दौरान, सभी शिक्षक और छात्र एक साथ बैठकर फल खाएंगे। इसका उद्देश्य बच्चों में आपसी भावना और सम्मान को बढ़ावा देना है, साथ ही उन्हें पौष्टिक नाश्ते की ओर प्रोत्साहित करना है।

See also  સુરતના વેપારીને શોખ ખાતર બે પિસ્ટલ રાખવી ભારે પડી

स्कूल के प्रिंसिपल, विजय झांझरुकिया का कहना है, “आजकल बच्चे फास्ट फूड की ओर अधिक आकर्षित हो रहे हैं, जिसके कारण उनके पोषण को लेकर चिंता बनी हुई है। यह सुनिश्चित करना महत्वपूर्ण है कि बच्चे स्वस्थ भोजन खाएं। अपनी नैतिक जिम्मेदारी के तहत, हमने इस सत्र से प्रत्येक बुधवार को फल दिवस मनाने का निर्णय लिया है।”

यह पहल न केवल बच्चों को स्वस्थ भोजन के महत्व के बारे में सिखाएगी, बल्कि उन्हें विभिन्न प्रकार के फलों और उनके स्वास्थ्य लाभों के बारे में भी जानकारी देगी।

आज के फास्ट फूड युग में, जब बच्चे अंधाधुंध फास्ट फूड का सेवन कर रहे हैं, कविश्री उशनस प्राइमरी स्कूल द्वारा की गई यह पहल बच्चों को सकारात्मक तरीके से पौष्टिक आहार अपनाने के लिए प्रोत्साहित करने का एक अनूठा प्रयास है। यह न केवल उनके स्वास्थ्य में सुधार करेगा, बल्कि उन्हें जीवन भर स्वस्थ रहने के लिए प्रेरित भी करेगा।

See also  पुंछ में सेना के वाहन में लगी आग, चार जवानों की मौत की आशंका | भारत

https://www.loktej.com/article/103055/unique-experiment-in-government-school-of-surat-every-wednesday-is

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read