HomeNewsसूरत :  कन्यादान, अंगदान और विद्यादान का त्रिवेणी संगम हुआ "बेटी जगत...

सूरत :  कन्यादान, अंगदान और विद्यादान का त्रिवेणी संगम हुआ “बेटी जगत जननी” सामुहिक विवाह कार्यक्रम


सूरत शहर में पिछले एक दशक से भव्य विवाह समारोह आयोजित कर पिताविहीन बेटियों को विदाई देने के लिए चर्चित सामाजिक कार्यकर्ता पीपी सावनी परिवार के प्रांगण में आज मुख्यमंत्री भूपेंद्र भाई पटेल सहित नेताओं द्वारा 150 बेटियों का कन्यादान किया गया। मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने 150 नवविवाहितों को सुखी वैवाहिक जीवन का आशीर्वाद दिया। हिंदू, मुस्लिम और ईसाई सहित सभी जातियों की पिताविहीन बेटियों ने अपने पिता की गर्मजोशी के साथ वैवाहीक जीवन की ओर कदम बढ़ाए। रविवार 25 दिसंबर को समारोह के दुसरे दिन और 150 बेटियों का सामुहिक विवाह इसी स्थल पर आयोजित होगा।

एक लाख स्वैच्छिक अंगदान का संकल्प का अनूठा कीर्तिमान दर्ज 

मुख्यमंत्री सहित केंद्र और राज्य सरकार के मंत्रियों की उपस्थिति में एक लाख से अधिक लोगों ने स्वैच्छिक अंगदान का संकल्प लिया और एक अनूठा कीर्तिमान दर्ज कर इंडिया बुक ऑफ रिकार्ड्स में स्थान प्राप्त किया। इसके साथ ही मुख्यमंत्री द्वारा बिना माता-पिता, विकलांग और आर्थिक रूप से कमजोर 1000 जरूरतमंद छात्रों के लिए ‘छात्र दत्तक ग्रहण योजना’ शुरू की गई। जिसमें सीएफई-कोटा के साथ मिलकर अनाथ, विकलांग या आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों के 1000 बच्चों को गोद लेकर मेडिकल, इंजीनियरिंग, सीए उच्च अध्ययन के लिए प्रवेश परीक्षा की तैयारी कराई जाएगी। विशेष: आजादी अमृत महोत्सव एवं प्रमुख स्वामी जी के शताब्दी वर्ष के अवसर पर स्वर्गीय श्री प्रमुख स्वामी महाराज को ‘दिकरी जगत जननी लगनत्सव’ को नमन किया गया है। 

See also  प्रतिष्ठान बंद कर देने से सूरत व बाहर की मंडियों में 400 व्यापारियों के 5 करोड़ फंसे
Story-24122022-B16
तापी नदी के किनारे समुह विवाह का अलौकिक नजारा

 

इस अवसर पर मुख्यमंत्री भूपेन्द्र पटेल ने कहा कि बिना पिता की छत्रछाया के हजारों बेटियों के विवाह से लेकर उनके जीवन भर की जिम्मेदारी निभाने तक समाज सेवा का यह एक दुर्लभ उदाहरण है। ‘कन्यादान महादान’ के नारे पर खरा उतरते हुए दूसरों के लिए उदाहरण प्रस्तुत करने वाले सवानी परिवार ने आशा व्यक्त की कि आयोजित किया जाने वाला यह विवाह उत्सव सद्भावना, समभाव और समभाव का प्रेरणा केंद्र बनेगा।

पीपी सवानी ग्रुप व जानवी लैब ग्रोन ग्रुप ने किया बेटी जगत जान का सामूहिक विवाह पीपी सवानी स्कूल के समीप अब्रामा गांव के विशाल मैदान में शनिवार को प्रथम चरण में धूमधाम से 150 बेटियों का विवाह हुआ। जिसमें दो मुस्लिम और एक ईसाई जोड़े ने भी नवजीवन में कदम रखा। शादी समारोह का लुत्फ उठाने के लिए लाखों की संख्या में लोग उमड़े। शाम छह बजे ढोल-नगाड़ों की थाप के साथ दूल्हा-दुल्हन शादी के मंडप में पहुंचे। और बाद में वैदिक मंत्रोच्चारण के साथ विवाह समारोह की शुरुआत हुई। साथ ही इस मौके पर मंच से आए राजनीतिक व सामाजिक नेताओं का सम्मान किया गया। महेशभाई सवानी ने अतिथियों का स्वागत किया। उसके बाद, एक लाख से अधिक अंग दान प्रतिज्ञा और 1000 छात्र गोद लेने की योजना की घोषणा की गई। तीन रिकॉर्ड बुक में अंगदान का संकल्प दर्ज है।

See also  सूरत : हजीरा-ओएनजीसी रोड़ मार्ग पर डंपर और कंटेनर के बीच टक्कर, कंटेनर चालक की मौके पर मौत

शनिवार, 24 दिसंबर की रात के 9 बज रहे हैं… एक तरफ तापी नदी का जल बह रहा है तो  सर्दी का अनुभव हो रहा है। तो दूसरी तरफ डेढ़ सौ बच्चियों की आंखों से आंसू बह रहे थे, जो माहौल में फैली उदासी दरअसल, बेटी जगत जननी की सामूहिक शादी का ब्राइडल शॉवर था। बेटियों से हजारों आंखें नम थीं और हर आंख शादी की रौनक से जगमगा रही थी। 

खुद कमाना और खुद खाना प्रकृति है, लेकिन खुद कमाना और दूसरों को खिलाना संस्कार हैः भुपेन्द्र पटेल 

महेशभाई सवानी अब तक पिता का साया खो चुकी हजारों बेटियों के पालक पिता बन चुके हैं। 2012 से सामूहिक विवाह उत्सव के बाद अब इस साल भी वीकेंड में जाह्नवी लेबग्रोन ग्रुप के रमेशभाई तश्ती परिवार के सहयोग से उन्होंने दिकरी जगत जननी’ का आयोजन कर रहे हैं, जिसका जिक्र मुख्यमंत्री ने खुशी-खुशी सवानी और तश्ती परिवार से किया और बधाई दी।

उन्होंने उनकी सेवा गतिविधियों की सराहना करते हुए कहा कि खुद कमाना और खुद खाना प्रकृति है, लेकिन खुद कमाना और दूसरों को खिलाना संस्कार है। जिसकी पुष्टि सवानी और लाखानी के परिवार ने की है। उन्होंने आशा व्यक्त की कि स्वतंत्रता के स्वर्ण युग के अवसर पर विवाहित जीवन की शुरुआत करने वाली बहुएं सुख, समृद्धि, एकता, समृद्धि और दक्षता के स्वर्ण युग का निर्माण करेंगी।

See also  सूरत : वयोवृद्ध वकील ललितचंद्र सुखडवाला के निधन से वकील आलम दुःखी
Story-24122022-B18
दिकरी जगत जननी सामुहिक विवाह में उपस्थित मुख्यमंत्री सहित अतिथि गण

 

इस मौके पर प्रदेश भाजपा अध्यक्ष सीआर पाटिल ने कहा कि पिता विहीन बेटियों ने वैवाहिक जीवन की सौगात देकर समाज को एक नया संदेश दिया है। सूरत के आंगन में एक दिन में एक लाख लोगों ने अंगदान किया, सूरत के नाम एक और उपलब्धि है। यह समूह विवाह का एक बड़ा उदाहरण है, जो जीवन के सभी क्षेत्रों के लोगों को नए, महान विचारों के माध्यम से एक साथ लाता है और परिवार को एक साथ बांधता है।

इस अवसर पर केंद्रीय रेल एवं कपड़ा राज्य मंत्री  दर्शनाबेन जरदोश, गृह राज्य मंत्री  हर्ष संघवी, वन एवं पर्यावरण, जल आपूर्ति राज्य मंत्री  मुकेशभाई पटेल, गृह राज्य मंत्री संसदीय कार्य, प्राथमिक, माध्यमिक, उच्च शिक्षा,  प्रफुल्लभाई पानशेरिया, गुजरात प्रदेश भाजपा अध्यक्ष सीआर पाटिल, सौराष्ट्र पटेल सेवा समाज, सूरत अध्यक्ष कांजीभाई भालाडा, पद्मश्री मथुरभाई सवानी सहित विधायक  विनोदभाई मोरडीया, पूर्णेश मोदी, जीतूभाई वाघानी , मनुभाई पटेल, प्रवीणभाई घोघरी, संदीप देसाई, मोहनभाई ढोडिया, कांतिभाई बलार, संगीता पाटिल, मेयर श्रीमती हेमाली बोघावाला, संतो महंतो सहित कई गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read