HomeNewsशहर का सबसे अनोखा पुल मात्र हल्के चारपहिया वाहनों को ही मिलेगी...

शहर का सबसे अनोखा पुल मात्र हल्के चारपहिया वाहनों को ही मिलेगी एन्ट्री


डुंभाल माधवबाग खाड़ी पर लोहे का पुल बनाने की कार्यवाही से स्थानिय लोगों को होगी बड़ी राहत

सूरत नगर निगम ने लिंबायत के डुंभाल क्षेत्र में माधवबाग नाले पर एक नया पुल बनाने का चल रहा है। सूरत में यह इस तरह का पहला पुल होगा। जिस पर सिर्फ हल्के चार पहिया वाहनों को ही प्रवेश मिलेगा। जबकि वाणिज्यिक वाहन इस पुल का उपयोग नहीं कर पाएंगे। आरसीसी पुल बना है तो अप्रोच का सवाल उठाया गया है, इसलिए लोहे का पुल बनाया गया है।

सूरत का सबसे अनोखा पुल

सूरत नगर निगम के दक्षिण पूर्व (लिंबायत) जोन क्षेत्र में टीपी नंबर 64 (मगोब-डुंभाल) एफपी नंबर 95 (रंगअवधूत सोसाइटी के दक्षिण) और टीपी 19 (पर्वत – मागोब) फा.प्लॉट नंबर 1 माधवबाग सोसाइटी माधवबाग सोसाइटी के उत्तर में खाडी ब्रिज पर्वत पाटिया को पर्वत गांव को जोड़ने वाली सड़क के पास स्थित है। इस पुल पर जिस पर उस समय बिल्डर ने बिना नगर पालिका की अनुमति के पुल बनाया था। खाड़ी के ऊपर बने इस पुल की संकरी चौड़ाई के अलावा, खाड़ी में खंभों के खड़े होने के कारण मानसून के दौरान पानी का प्रवाह बाधित हो गया था और क्षेत्र में बाढ़ आ गई थी।

See also  ફ્લૂના લક્ષણ ધરાવતા દર્દીઓને કોવીડનો રિપોર્ટ કરાવવા સુરત પાલિકાની અપીલ

मानसून में भी होगी पानी की समस्या का समाधान

इस स्थान पर खाड़ी तटबंध परियोजना के तहत नाले का पुनर्विकास किया गया था। जिसमें इस स्थान पर खाड़ी की चौड़ाई लगभग 20.20 मीटर थी लेकिन पुल के कारण इस खाड़ी को पर्याप्त चौड़ाई नहीं मिल सकी। तो इस संबंध में आसपास के सोसायटी के निवासियों द्वारा मानसून में बाढ़ की शिकायत की गई थी। इसलिए इस पुराने पुल को हटाकर उसकी जगह नया पुल बनाने की योजना बनाई गई। हालांकि, अगर एक आरसीसी पुल का निर्माण किया जाता है, तो इसे खाड़ी के अंदर खंभों के साथ बनाना होगा। अगर ऐसा होता है तो बाढ़ की समस्या फिर से पैदा हो सकती है। इसलिए नगर पालिका ने इस जगह पर लोहे का पुल बनाने की योजना बनाई है।

See also  જુના પેમેન્ટ ચૂકવવા નહીં પડે તે માટે અમુક વેપારીઓ દુકાનો ખોલતાં નથી

पुल का काम पूरा करने की दिशा में

इस खाड़ी पर लोहे के पुल को अंतिम रूप दिया जा रहा है। इस पुल का निर्माण नगर पालिका अगले दो से तीन महीने में पूरा कर लेगी। इस पुल से केवल हल्के चार पहिया वाहनों को ही गुजरने की अनुमति होगी। इस पुल से व्यावसायिक वाहनों को गुजरने की अनुमति नहीं होगी। पहला ऐसा पुल सूरत नगर पालिका द्वारा बनाया जा रहा है, जिस पर व्यावसायिक वाहन नहीं गुजर सकेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read