HomeNewsपॉलिटेक्निक कॉलेज के शिक्षकों की हड़ताल से गांधी इंजीनियरिंग कॉलेज में बंद...

पॉलिटेक्निक कॉलेज के शिक्षकों की हड़ताल से गांधी इंजीनियरिंग कॉलेज में बंद हुआ लर्निंग लाइसेंस का काम


आरटीओ को बिना सूचना दिए हड़ताल पर चले गए सरकारी पॉलिटेक्निक के शिक्षक, अब कॉलेज बंद है पर लाइसेंस का अपॉइंटमेंट मिल रहा है

सरकारी पॉलिटेक्निक के शिक्षक अपने लंबित प्रश्नों को लेकर अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले गए हैं। पिछले 23 सितंबर से शिक्षकों के हड़ताल पर जाने के बाद सूरत गांधी इंजीनियरिंग कॉलेज में लर्निंग ड्राइविंग लाइसेंस का संचालन ठप हो गया है।

कॉलेज है बंद पर सिस्टम से मिल रहा है अपॉइंटमेंट

जानकारी के अनुसार सरकारी पॉलिटेक्निक के शिक्षक आरटीओ को बिना सूचना दिए हड़ताल पर चले गए। ऐसे में शिक्षकों के हड़ताल की जानकारी न होने पर ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने वाले लोगों को सिस्टम द्वारा लर्निंग लाइसेंस के लिए गांधी इंजीनियरिंग कॉलेज के केंद्र का अपॉइंटमेंट मिल रहा है। ऑनलाइन अप्वाइंटमेंट मिलने से अब बड़ी संख्या में आवेदक रोजाना गांधी कॉलेज पहुंच रहे हैं, लेकिन शिक्षकों की हड़ताल के कारण केंद्र पर ताला लगा होने से आवेदकों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। 

See also  ચંદ્રગ્રહણ હોવાથી કારખાનું બંધ રખાયું અને કારખાનેદારે કારખાનામાં ફાંસો ખાધો

क्या है इसका उपाय?

आपको बता दें कि इस प्रकार समस्या का सामना कर रहे याचिकाकर्ताओं ने गांधी इंजीनियरिंग के प्रधानाचार्य को एक अभ्यावेदन दिया, लेकिन उन्होंने भी कोई उचित कार्यवाही नहीं की। हालांकि, यहां सबसे बड़ा सवाल यह है कि अगर सूरत आरटीओ लर्निंग लाइसेंस के लिए गांधी इंजीनियरिंग सेंटर की अपॉइंटमेंट हटा देता है, तो क्या समस्या का समाधान हो सकता है? गांधी कॉलेज सेंटर के लिए ऑनलाइन अपॉइंटमेंट बंद होने के बाद, आवेदक सूरत में एक अन्य आईटीआई कार्यालय में अपॉइंटमेंट बुक करेंगे। वर्तमान में गांधी महाविद्यालय की नियुक्ति अगले दिन होने के कारण अधिकांश आवेदक गांधी महाविद्यालय में ही नियुक्ति की बुकिंग कर रहे हैं।

See also  સુરતનું ધો-12 સાયન્સનું 71.15 ટકા રિઝલ્ટ : સૌથીવધુ 16 વિદ્યાર્થીને એ-1 ગ્રેડ

गाँधी कॉलेज के लिए फी भर चुके लोगों के सामने दो-दो समस्या

गौरतलब है कि अब तक जिन आवेदकों ने गांधी कॉलेज की नियुक्ति बुक करा ली है, वे बड़ी मुसीबत में हैं। क्योंकि, जब तक गांधी कॉलेज का केंद्र चालू नहीं होगा, तब तक वे लर्निंग ड्राइविंग लाइसेंस के लिए कंप्यूटर टेस्ट नहीं दे पाएंगे। उन्हें दूसरे केंद्र में भी अपॉइंटमेंट नहीं मिलेगी। यदि आवेदक किसी अन्य केंद्र पर अप्वाइंटमेंट लेना चाहते हैं तो उन्हें पहले भुगतान किए गए 900 रुपये शुल्क का भुगतान करना होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read