HomeNewsपटेल परिवार के ब्रेनडेड भारती बेन के अंगदान से पांच लोगों को...

पटेल परिवार के ब्रेनडेड भारती बेन के अंगदान से पांच लोगों को मिला नवजीवन


टेक्सटाईल और डायमंड सीटी सूरत अब ओर्गन डोनर सीट के रुप में पहचाना जाता है

खेड़ा जिले के ठासरा तहसिल के कालसर गांव की निवासी भारतीबेन को चक्कर आने पर उन्हे पुत्री मयुरी बोरसद की अस्पताल में ले गयी जहा प्राथमिक चिकित्सा के दौरान उनके दिमाग की नस फुल गई होने का पता लगा। भारती बेन को अधिक चिकित्सा के लिए सूरत की किरण अस्पताल में 5 अक्टुब को भर्ती किया गया। 8 अक्टुबर को न्युरोसर्जन ने भारतीबेन को ब्रेनडेड घोषित किया।

परिजनों को अंगदान का महत्व समझाते डोनेट लाईफ के संस्थापक

डोनेट लाईफ संस्था के निलेश मांडलेवाला और किरण अस्पताल के चिकित्सकों ने भारती बेन के पुत्री, दामाद और अन्य रिश्तेदारों को अंगदान का महत्व समझाया। भारतीबेन के पति का जुलाई महिने में ही ह्रदयरोग से अवसान हुआ था। परिवार के सदस्य अंगदान के लिए तैयार होने पर भारती बेन के अंगों का दान किया गया। 

See also  उधना-बनारस के बीच आज से शुरू होगी नई साप्ताहिक ट्रेन

भारतीबेन के अंगदान से पांच लोगों को मिला नया जीवन 

भारतीबेन के अंगदान में प्राप्त किडनी और लिवर सूरत की किरण अस्पताल में स्वीकारा गया। किडनी को सूरत के 22 वर्षिय युवक में और दुसरी किडनी को बिलिमोरा के 53 वर्षिय व्यक्ति में ट्रान्सप्लान्ट किया गया। लिवर भरूच के 61 वर्षिय व्यक्ति में ट्रान्सप्लान्ट किया गया। दान में प्राप्त चक्षीओं को किरण अस्पताल द्वारा जरूरतमंदों में ट्रान्सप्लान्ट किए जायेगे। 

ब्रेन डेड भारती बेन के अंगदान से पांच लोगों को नयी जीवन दिया गया। डोनटे लाईफ द्वारा अभी तक 1043 अंगो का दान किया गया है। जिसमें 438 किडनी, 186 लिवर, 8 पेन्क्रियास, 41 ह्रदय, 26 फेफड़े, 4 हाथ, 340 चक्षुओं का दान करके 956 लोगों को नवजीवन प्रदान किया गया। 

See also  Suratમાં 1300થી વધુ શાળામાં ફાયર સેફટી મુદ્દે ફાયર વિભાગે હાથધરી તપાસ

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read