HomeNewsतीन साल के कार्यकाल के बाद नगर निगम आयुक्त बंछा निधि पानी...

तीन साल के कार्यकाल के बाद नगर निगम आयुक्त बंछा निधि पानी का तबादला


सूरत और वडोदरा महानगरपालिका आयुक्त का आंतरिक स्थानांतरण

सूरत और वडोदरा नगर आयुक्तों के आंतरिक तबादले हुए हैं। बंछानिधि पाणि को वडोदरा का नगर आयुक्त नियुक्त किया गया है। सूरत के नगर आयुक्त बंछानिधि पाणि पिछले तीन साल से सूरत नगर निगम में आयुक्त थे। बंछानीधी पाणि ने नगर निगम आयुक्त के पद पर सुनियोजित ढंग से प्रशासनिक व्यवस्था का प्रयोग कर कोरोना काल में शहर कोरोना नियंत्रण में काफी आगे रहा।

बंछा निधि पानी ने कोरोना काल में सराहनिय कार्य किया

बनचनिधि पाणि आयुक्त को वडोदरा आयुक्त नियुक्त किया गया है। बंचानिधि पाणि सूरत शहर के लिए कई परियोजनाओं को शीघ्रता से पूरा करने के लिए लगातार प्रयासरत था। सूरत शहर में उनके कार्यकाल के दौरान छोटे-मोटे मामलों को छोड़कर उन पर कोई बड़ा आरोप नहीं लगाया गया है। उन्होंने कोरोना काल में सूरत शहर में सबसे तेज टीकाकरण अभियान भी पूरा किया। जिसका नोटिस राज्य सरकार और केंद्र सरकार तक ले जाया गया था। सूरत शहर के लिए कोरोना एक बहुत बड़ी चुनौती थी। क्योंकि यहां अन्य प्रांतों के लोग भी बड़ी संख्या में रहते हैं। ट्रिपल टी फॉर्मूला लागू करने से कम से कम कोरोना काल में संक्रमण फैलाने में सफलता मिली

See also  सूरत : 8 साल का बच्चा खेलते-खेलते खो गया, 170 किमी दूर ट्रेन में मिला | सूरत News


शालिनी अग्रवाल अब सूरत शहर आयुक्त होंगी

तीन साल पूरे होने के बाद आंतरिक फेरबदल के हिस्से के रूप में सूरत नगर आयुक्त बंछानधि पाणि को वडोदरा के आयुक्त के रूप में नियुक्त किया गया है और सूरत शहर शालिनी अग्रवाल अब आयुक्त होंगी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सूरत दौरे के बाद अगले ही दिन तबादला आदेश कर दिया गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आगमन पर सूरत नगर निगम ने युद्धस्तर पर काम पूरा किया। मनापा आयुक्त बंछानिधि पाणि को सरकार का सबसे करीबी अधिकारी माना जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read