HomeNewsडिंडोली छठ सरोवर पर छठ उपासकों ने अस्ताचलगामी सूर्य भगवान को अर्ध्य...

डिंडोली छठ सरोवर पर छठ उपासकों ने अस्ताचलगामी सूर्य भगवान को अर्ध्य दिया


आस्था और श्रध्दा के साथ अस्ताचलगामी भगवान सूर्यदेव को पहला अर्ध्य देने भक्तों का उमडा जन सैलाब, आज सोमवार को ऊगते सूर्य को दुसरा अर्ध्य देकर महापर्व पुर्ण होगा

धार्मिक शास्त्रों के अनुसार छठ के दिन भगवान सूर्यदेव की पूजा की जाती है। कार्तिक मास की शुक्ल षष्ठी को। यह त्यौहार पूरे चार दिनों तक चलता है, जिसके दौरान 36 घंटे का निर्जला व्रत रखा जाता है। छठ पूजा बच्चों के सुख, सौभाग्य, समृद्धि और सुखी जीवन की कामना के लिए की जाती है। छठ पर्व की शुरुआत नहाने और खाने से होती है। इसके बाद खरना, अर्घ्य और पारण आते हैं। खरना के दिन चावल और गुड़ की खीर बनाई जाती है। छठ व्रत रखनेवाली महिलाओं के बिना पानी के 36 घंटे के उपवास की शुरुआत खरना से होती है। छठ व्रतों के दौरान ब्रह्मचर्य का पालन करना चाहिए। साथ ही व्रत के दौरान बिस्तर पर नहीं सोना चाहिए। छठ व्रत के दौरान भक्तों को जमीन पर सोना पड़ता है।

See also  सूरत :  बोर्ड के छात्र को ट्रैफिक पुलिसकर्मी समय पर परीक्षा केंद्र तक ले गया | सूरत

छठ सरोवर पर प्रशासन ने पुर्ण सहयोग दिया

डिंडोली में इस बार छठ पर्व में भाग लेने के लिए एक लाख से अधिक श्रद्धालु डिंडोली छठ सरोवर पहुंचे हैं। छठ सेवा समिति डिंडोली में प्रशासन का अच्छा सहयोग मिला है। सूरत नगर निगम और पुलिस प्रशासन ने दमकल कर्मियों का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि डिंडोली छठ सरोवर में सभी के सहयोग से छठ पूजा धूमधाम से मनाई गई।

छठ पूजा में स्थानिय एवं प्रदेश के नेतागण उपस्थित रहे

गुजरात प्रदेश अध्यक्ष सी.आर. पाटिल, लिंबायत  विधायक संगीताबेन पाटिल, महापौर हेमाली बोघावाला, सूरत शहर भाजपा अध्यक्ष निरंजन झांझमेरा, उप महापौर दिनेश जोधानी, स्थायी समिति के अध्यक्ष परेश पटेल, सूरत नगर निगम शासक दल नेता अमित सिंह राजपूत, शिक्षा समिति सदस्य शुभम गुलजारीलाल उपाध्याय उपस्थित थे और सभी छठ भक्तों को छठ पूजा की हार्दिक बधाई दी। श्री छठ सेवा समिति डिंडोली प्रमुख गुलजारीलाल उपाध्याय, महासचिव विजय पांडेय, कोषाध्यक्ष ओंकारनाथ मिश्रा, उपाध्यक्ष अमर सिंह राजपूत, उपाध्यक्ष देवी प्रसाद दुबे, मंत्री हरिकेश सिंह राजपूत, प्रवक्ता धर्मात्मा त्रिपाठी और ट्रस्ट के सभी अधिकारियों और सदस्यों ने उपस्थित अतिथियों का आभार व्यक्त किया।

See also  अहमदाबाद :  गुजरात यूनिवर्सिटी के छात्रों को मिला नीति आयोग में काम करने का मौका

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read