HomeNewsटेक्नोलॉजी: जल्द ही अमेरिकी अदालत में दिखाई देने लगेगा 'रोबोटिक वकील'

टेक्नोलॉजी: जल्द ही अमेरिकी अदालत में दिखाई देने लगेगा ‘रोबोटिक वकील’


आज कल आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस या एआई तकनीक तेजी से रोजमर्रा की जिंदगी में अपनी जगह बना रही है। आजकल हर छोटे-बड़े काम को ये आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस या एआई तकनीक बड़े सहजता से करने लगी है. अब अगर आपको कोई एक केस लड़ने की कल्पना करें तो आपके मन में किसी वकील का चेहरा बनेगा पर अगर कोई बताये कि वकील की जगह एक रोबोट बहस कर रहा हो तो। भले ही सुनने में ये एक कल्पना मालूम हो पर अब ये सच हो गई है।

दुनिया का पहला एआई-संचालित ‘रोबोट वकील’ अमेरिका में बनाया गया है। वर्तमान में यह ओवर स्पीडिंग से संबंधित मामलों पर कानूनी सलाह प्रदान करेगा। अमेरिका स्थित स्टार्टअप डूनॉटपे ने इसे बनाया है। अगले महीने फरवरी से अमेरिकी कोर्ट में इस पर चर्चा होगी।

See also  आर्टिफिशियल इंटेलिजंस की धूम के बीच जानिये क्यों 'इंटरनेट के जनक' विंट सेर्फ ने इसमें निवेश के लिए जल्दबाजी न करने की सलाह दी है!

इस रोबोट को बनाने वाले शख्स ने इस पर क्या कहा 

आपको बता दें कि डूनॉटपे के संस्थापक और सीईओ जोशुआ ब्राउनर का कहना है कि कानून लगभग कोड और भाषा का मिश्रण है। तो इसमें काफी हद तक AI का इस्तेमाल किया जा सकता है। ऐसे में यह पहली बार होगा जब कोई एआई-आधारित रोबोट एक वास्तविक अदालत में एक वकील के रूप में बहस करेगा।

कंपनी का दावा है कि उनका रोबोट स्मार्टफोन पर चलता है। जो अदालती कार्यवाही को सुनने के बाद प्रतिवादियों ईयरपीस के जरिए को हिदायत देगी कि कैसे जवाब दिया जाए। यह समझाएगा कि जुर्माना और अन्य दंड देने से कैसे बचा जाए।

See also  अजब-गजब : बीते 61 सालों से नहीं सोया है ये शख्स, जानिए इसकी हैरतअंगेज कहानी

अदालत में ऐसे उपकरणों के उपयोग पर है रोक

गौरतलब है कि कुछ देशों की अदालतों में आम तौर पर इंटरनेट एक्सेस वाले फोन और अन्य इलेक्ट्रॉनिक गैजेट्स के उपयोग की अनुमति नहीं है। अमेरिका के सुप्रीम कोर्ट ने अदालत में इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों के इस्तेमाल पर रोक लगा दी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read