HomeNewsजिले की 16 विधानसभा में आदर्श आचार संहिता लागू

जिले की 16 विधानसभा में आदर्श आचार संहिता लागू


जिला निर्वाचन अधिकारी एवं कलेक्टर आयुष ओक ने मतदाता, मतदानकेन्द्र तथा तैयारीओं के बारे में जानकारी साझा की

गुजरात विधानसभा आम चुनाव-2022 के लिए भारत निर्वाचन आयोग द्वारा आज घोषित चुनाव कार्यक्रम के संबंध में जिला निर्वाचन अधिकारी एवं कलेक्टर आयुष ओक ने  सूरत जिले की 16 विधानसभा में आदर्श आचार संहिता लागू करने के संबंध में प्रिंट-इलेक्ट्रॉनिक मीडिया से बातचीत की। 

नामांकन पत्र भरने की अंतिम तिथि 14 नवंबर

जिला निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि स्वतंत्र, निष्पक्ष, निष्पक्ष और शांतिपूर्ण माहौल में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए जिला निर्वाचन प्रणाली की तैयारियों को अंतिम रूप दे दिया गया है। चुनाव आयोग द्वारा अधिकारिक अधिसूचना ( नोटिफिकेशन)  5/11/2022 को प्रकाशित की जाएगी। नामांकन पत्र भरने की अंतिम तिथि 14/11/2022 तथा नामांकन पत्रों का सत्यापन 15/11/2022 से एवं नामांकन पत्र वापस लेने की तिथि 17 नवम्बर है। पहले चरण में 1/12/2022 को मतदान होगा। जब वोटों की गिनती 8/12/2022 को होगी। आचार संहिता को सख्ती से लागू करने के लिए होर्डिंग्स, बैनर हटाने का काम शुरू कर दिया गया है। फ्लाईंग टीमों, सामरिक निगरानी टीमों को भी संचालन में लगाया गया है। उन्होंने बताया कि जिले की सीमाओं पर चेकपोस्ट बनाए गए हैं।

See also  उर्वरक क्षेत्र के लिए हरित अमोनिया का आवंटन 5.5 लाख टन प्रति वर्ष से बढ़ाकर 7.5 लाख टन प्रति वर्ष किया गया | Loktej भारत News

नागरिकों के लिए शिकायत केन्द्र का नंबर जारी 

कलेक्टर ने कहा कि चुनाव की आचार संहिता को ध्यान में रखते हुए फॉर्म नंबर 7 और फॉर्म नंबर 8 का संचालन रोक दिया गया है। जब फॉर्म नंबर-6 काम  शुरू रहेगा। नामांकन के अंतिम दिन से दस दिन पहले तक नए मतदाता का ऑनलाइन पंजीकरण फॉर्म नंबर -6 से जारी रहेगा। सोशल मीडिया पर नजर रखने के लिए कमेटी बनाई गई है। विधानसभा आम चुनाव-2022 के तहत सूरत जिले के कुल 16 विधानसभा क्षेत्र के आम चुनाव 1 दिसंबर 2022 को होनी है। इस संबंध में यदि सूरत जिले के नागरिकों को कोई शिकायत है तो वे जिला नियंत्रण केंद्र के दूरभाष नंबर 0261-2992245/2246/2247/2249 पर या टोल फ्री नंबर 1800-233-2120 पर या । अधिक जानकारी के लिए सी-विजिल ऐप ऑनलाइन शिकायत भी दर्ज कर सकते है ।

See also  यूट्यूब पर लॉंच होने जा रहा गीत ‘ज़रा सा’, सूरत के बाल कलाकारों ने किया अभिनय

ईएमएमसी केंद्र स्थापित किया गया

प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया पर नजर रखने के लिए एमसीएमसी सेंटर बनाया गया है। चुनाव संबंधी विज्ञापनों के लिए चैनलों के प्रमाणीकरण और निगरानी के लिए पुराने कलेक्टर कार्यालय, योजना भवन में ईएमएमसी केंद्र स्थापित किया गया है। इसके अलावा किसी भी विज्ञापन के प्रमाणीकरण के लिए एमसीएमसी कमेटी का गठन किया गया है। इसलिए किसी भी राजनीतिक दल को विज्ञापन देने से पहले इस समिति में मंजुरी लेनी चाहिए।

प्रत्येक विधानसभा के लिए एक ग्रीन, विकलांग और आदर्श मतदान केंद्र स्थापित किए जाएंगे

जिले के प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र के लिए 07 महिला मतदान केंद्र, 01 विकलांग मतदान केंद्र, 01 मॉडल मतदान केंद्र और 01 ग्रीन पोलिंग बूथ स्थापित किए जाएंगे। इस प्रकार सूरत जिले में कुल 112 महिला मतदान केंद्र, 16 विकलांग मतदान केंद्र, 16 मॉडल मतदान केंद्र और प्रत्येक विधानसभा में एक हरित मतदान केंद्र चालू रहेगा जिसमें एकल उपयोग प्लास्टिक का उपयोग नहीं किया जाएगा और केवल पुन: प्रयोज्य और रीसाइक्लिंग आइटम का इस्तेमाल होगा । इसके अलावा कलेक्टर ने जानकारी दी कि 01 युवा मतदान केंद्र (सभी मतदानकर्मी 25 से 30 आयु वर्ग के होंगे) स्थापित किए जाएंगे। 

See also  લિંબાયતમાં નિગર ક્લિનીક નામે લોકોના સ્વાસ્થય સાથે ચેડા કરતો બોગસ ડોક્ટર પકડાયો

मतदान के दिन वेबकास्टिंग की जाएगी

जिला निर्वाचन अधिकारी ने आगे बताया कि जिले में कुल 526 मतदान केंद्रों को संवेदनशील मतदान केंद्र के रूप में चिन्हित किया गया है। इन सभी स्थानों पर मतदान के दिन वेबकास्टिंग की जाएगी। वहीं जिले के कुल मतदान केंद्रों में से 2632 मतदान केंद्रों पर मतदान के दिन वेब कास्टिंग की जाएगी। 164-उघना विधान सभा निर्वाचन क्षेत्र व्यय संवेदनशील निर्वाचन क्षेत्र ( एक्सपेन्डीयर सेन्सीटीव कन्स्टीट्युअन्सी (ईएससी) के रूप में नामित किया गया है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read