HomeNewsगीता पर विवादित बयान पर रोष, राष्ट्र सेना ने कांग्रेसी नेता का...

गीता पर विवादित बयान पर रोष, राष्ट्र सेना ने कांग्रेसी नेता का पुतला फूंका और प्रतिमा पर लगाए जूते


शिवराज पाटिल के बयान पर राष्ट्र सेना ने विरोध जताया

सूरत के रांदेर में कांग्रेस नेता शिवराज पाटिल का विरोध किया गया। राष्ट्रीय सेना के पुतले जलाकर और छवि को लात मारकर विरोध किया गया। श्रीमद्भागवत गीता पर शिवराज पाटिल के विवादित बयान ने विरोध शुरू कर दिया।

कांग्रेस नेता का पुतला दहन

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय गृह मंत्री शिवराज पाटिल ने एक पुस्तक विमोचन कार्यक्रम में श्रीमद्भागवत गीता पर विवादित टिप्पणी की। इसको लेकर सूरत में उनका विरोध हुआ था। रांदेर में राष्ट्रीय सेना द्वारा चप्पलों का हार पहनकर पुतला जलाकर विरोध किया गया। इसके अलावा उनके खिलाफ नारेबाजी कर धरना भी दिया।

धर्म विरोधी बयान बर्दाश्त नहीं किया जाएगा

राष्ट्र सेना अध्यक्ष विनोद जैन ने कहा कि शिवराज पाटिल का बयान बेहद निंदनीय है। जिस हाथ को हम क्षण कहते हैं वह हिंसक है और अन्य धर्मों के लोगों को नुकसान पहुंचाने वाली मानसिकता को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। हमारी भगवद गीता में वासुदेव की एक परिवार के रूप में भावना है और प्रत्येक जीव को भगवान का रूप माना जाता है। भगवद गीता की ऐसी जिहादी मानसिकता से तुलना करना बिल्कुल बेतुका है। शिवराज पाटिल को माफी मांगनी चाहिए। पूरे हिंदू धर्म और भारतीय नागरिकों की भावनाएं आहत हैं।

See also  તાપી જિલ્લાના નિઝર અને કુકરમુંડામાં ઠામોઠામ રેતી સ્ટોરેજનો રાફડો ફાટયો

कांग्रेस नेता ने क्या बयान दिया?

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व गृह मंत्री शिवराज पाटिल एक बयान को लेकर विवादों में हैं। दिल्ली में एक किताब के विमोचन के मौके पर मौजूद पाटिल ने कहा कि जिहाद कुरान में ही नहीं गीता में भी है। जीसस में भी जिहाद है। जब सभी प्रयासों के बाद भी अच्छे विचारों को कोई नहीं समझता है, तो बल का प्रयोग किया जाना चाहिए। महाभारत में गीता का एक अंश है, उसमें जिहाद भी है। महाभारत में श्रीकृष्ण ने अर्जुन को जिहाद का पाठ पढ़ाया था।

धर्म को लेकर एक बार फिर गरमा गई सियासत

बयान में शिवराज ने यह भी कहा कि ईसाइयों ने भी कहा है कि वे सिर्फ शांति स्थापित करने नहीं आए हैं. तलवार भी लाए हैं तो सब कुछ समझकर भी कोई शस्त्र लेकर आ जाए तो भाग नहीं सकते। पाटिल ने यह बयान मोहसिना किदवई की किताब के विमोचन के दौरान दिया। उन्होंने कहा कि किदवई की किताब में इसका विस्तार से वर्णन किया गया है. इस तरह के बयान ने एक बार फिर धर्म को लेकर राजनीति गर्म कर दी है।

See also  Software Engineer: Software engineer falls to death | Surat News

आप-कांग्रेस धर्म विरोधी विचारधारा रही है

गृह मंत्री हर्ष संघवी ने कहा कि आप और कांग्रेस की विचारधारा धर्म विरोधी रही है। उनकी यह विचारधारा कहीं बाहर आ रही है और लोगों की आस्था को ठेस पहुंचा रही है। कभी आप नेता तो कभी कांग्रेस नेता आस्था को ठेस पहुंचाने का काम करते हैं। राजनीतिक नेताओं को सावधान रहना चाहिए कि किसी भी धर्म की आस्था को ठेस न पहुंचे। जब गुजरात में चुनाव आ रहे होते हैं तो ऐसे बयान आने लगते हैं. मैं शिवराज पाटिल को एक बड़ा व्यक्ति मानता हूं, उनके लिए इस तरह का बयान देना बेहद निंदनीय है। ऐसा बयान क्यों दिया गया यह जांच का विषय है।

See also  ડેનિમ કાપડના ઉત્પાદનમાં સુરત દેશમાં ડંકો વગાડશે

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read