HomeNewsकच्छ के चकचारी हनीट्रैप मामले में आरोपी युवती सूरत से गिरफ्तार

कच्छ के चकचारी हनीट्रैप मामले में आरोपी युवती सूरत से गिरफ्तार


महिला विधायक का समझौता फोर्म्युला टूटने के बाद एक अहम घटना

भुज के चकचरी हनीट्रैप मामले में पश्चिम कच्छ पुलिस को एक अहम सफलता मिली है। मामले में अहम भूमिका निभाने वाली युवती को पुलिस ने दबोच लिया है। वेस्ट कच्छ पुलिस की टीम बच्ची को सूरत से भुज ला रही है। जिससे संभावना जताई जा रही है कि आने वाले दिनों में इस मामले में और भी कई खुलासे हो सकते हैं। बेशक पुलिस ने इस बारे में कोई आधिकारिक बयान नहीं दिया है। 


पुलिस की जांच में पता चला की लडकी सूरत में है

सूत्रों के मुताबिक हनीट्रैप मामले में नामजद लड़की को ट्रेस करने के दौरान पुलिस को पता चला कि वह सूरत में है। इसलिए वेस्ट कच्छ पुलिस की टीम सूरत पहुंच गई। और लड़की को वहां से ले जाया गया। कच्छ लडायक मंच संस्था के नाम से  जिले के कई मुद्दो को लेकर बडे-बडे विज्ञापन देने वाले रमेश जोशी सहित जयंती भानुशाली हत्याकांड के आरोपित जयंती डूमर के अलावा कच्छ -भूज के नामी लोगों को दस करोड के हनीट्रेप के मामले में पुलिस ने फीट कर दिया है। 

See also  सूरत :  राजनीति में पैच लगाने वाले नेताओं ने उत्तरायण पर खूब लिये पतंगबाजी के मजे

कच्छ के आदिपुर में रहने वाले हनीट्रैप मामले में शिकायतकर्ता खावड़ा फाइनेंस के अनंत चमनलाल ठक्कर को एक लड़की के साथ वीडियो के चलते पकड़ा गया। करोड़ों रुपये मांगे जाने से तंग आकर उसने पुलिस के पास जाने का फैसला किया। जिसके बाद पुलिस ने इस घटना में शिकायत दर्ज कर ली।

10 करोड़ की हनीट्रैप का मामला

वडोदरा की रहने वाली आशा नाम की लड़की ने अभियोजक अनंत चमनलाल ठक्कर को व्हाट्सएप पर मैसेज कर अपने जाल में फंसाया। फिर वे होटल में मिले। और उस समय लड़की ने चुपके से वीडियो बना लिया। और उस वीडियो के आधार पर लड़की अनंत चमनलाल ठक्कर को ब्लैकमेल करने लगी। अनंत ठक्कर ने शुरुआत में कुछ रुपये दिए थे। लेकिन अधिक पैसा वसूलने के लालच में उसने इस मामले में भुज के उषा डेवलपर्स के विनय रेलोन उर्फ ​​लालो, भचाऊ के वकील हरेश कंठेचा, जयंती भानुशाली हत्याकांड के आरोपी जयंती ठक्कर डुमरवाला, अंजार के मनीष मेहता,  मुंबई में रहने वाले कच्छ लडायक मंच के सामाजिक कार्यकर्ता रमेश जोशी, उनके भाई शंभू जोशी और खुशाल उर्फ ​​लाला ने मिलकर खावड़ा फाइनेंस के अनंत ठक्कर से 3 करोड़ रुपये और बाद में 10 करोड़ रुपये की मांग की।

See also  Ayushman Bharat yojana : નાણાકીય ગેરરીતિ આચરનાર સુરતની ત્રણ હોસ્પિટલને કરી દેવાઇ સસ્પેન્ડ

विधायक की मध्यस्थता भी नहीं चली

हनीट्रैप मामले में कच्छ के एक ही समुदाय के जाने-माने लोग शिकायतकर्ता और आरोपी हैं। नतीजतन भुज के विधायक डॉ. निमाबेन आचार्य ने कुछ दिन पहले भुज के सर्किट हाउस में दोनों पक्षों की बैठक कर सुलह का प्रयास किया। कोई नतीजा नहीं निकला। इसके बाद आरोपी लाला की चचेरी बहन और भुज के जाने-माने डॉक्टर की पत्नी ने सभी की मौजूदगी में विधायक नीमाबेन को जमकर डांटा. ऐसे में पूरे मामले का हल नहीं निकलने पर पुलिस भी अब सक्रिय है।

बाकी आरोपी क्यों नहीं पकड़े गए?

हनीट्रैप मामले में भुज के कुख्यात बिल्डर लाला के अलावा अब तक कोई नहीं पकड़ा गया है। आज आरोपित युवती को पकड़ लिया गया है। हाई प्रोफाइल आरोपी अभी भी पुलिस की पहुंच से बाहर हैं। तब भुज के एसपी सौरभ सिंह ने दावा किया कि पुलिस टीम बनाकर आरोपियों की गतिविधियों पर नजर रख रही है।

See also  Hit And Run: સુરતમાં હિટ એન્ડ રનની ઘટનામાં યુવકનું મોત, પરિવારે એકનો એક દીકરો ગુમાવ્યો

न ढीली है पुलिस और न किसी से डर

कच्छ के इस चकचारी हनीट्रैप मामले में पुलिस की कार्रवाई को लेकर मीडिया में खूब चर्चा हुई। भुज के एसपी सौरभ सिंह ने कहा कि पुलिस ने नियमानुसार कानूनी कार्रवाई की है। भुज एसपी सिंह ने यह भी दावा किया कि पुलिस ढीली या डरी हुई नहीं है। शिकायतकर्ता तन्ना तीन महीने से पुलिस को चकमा दे रहा था। जिसमें उन्होंने पहले अपना नाम बताए बिना शिकायत दर्ज कराने पर जोर दिया। जो कानूनी प्रावधान के अनुसार संभव नहीं था। एसपी सौरभसिंह ने कहा कि आखिरकार लंबे समय के बाद शिकायत दर्ज कराने के लिए तैयार हुआ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read