HomeNewsअहमदाबाद : सौराष्ट्र में किसानों को रबी फसल के लिए मिलेगा पर्याप्त...

अहमदाबाद : सौराष्ट्र में किसानों को रबी फसल के लिए मिलेगा पर्याप्त पानी, नर्मदा के पानी से भरेंगे 115 जलाशय


कृषि मंत्री राघवजी पटेल ने कहा है कि सौराष्ट्र के किसानों के हित में मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने नर्मदा के जल से सौराष्ट्र के जलाशयों को सौनी योजना से भरने का अहम फैसला लिया है। सौनी योजना द्वारा सौराष्ट्र के जलाशयों को भरे जाने के किसानों को पर्याप्त पानी मिलेगा। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने सौनी योजना द्वारा नर्मदा नदी में आने वाले बाढ़ के पानी को सौराष्ट्र के जरुरत वाले जिलों के 115 जलाशयों को भरकर 970 से अधिक गांवों के क्षेत्र में सिंचाई सुविधाओं को सुदृढ़ बनाने एवं पीने के पानी की समस्या को हल करने की योजना बनाई है।

See also  अहमदाबाद : नवंबर 2022 तक गुजरात में 108 एंबुलेंस से 1.42 करोड़ लोगों को अस्पताल पहुंचाया गया

लिंक-1,2,3 व 4 के माध्यम से जलाशयों को भरा जाएगा

राघवजीभाई पटेल ने इस वर्ष सौराष्ट्र के किसानों की जरूरतों का आकलन कर योजना के माध्यम से सौराष्ट्र के जलाशयों में नर्मदा नदी का पानी भरने की योजना बनाई है।

मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने जल संसाधन मंत्री कुंवरजीभाई बावलिया से मिलकर जलाशयों के लिए पानी की आवश्यकता के संबंध में अनुरोध किया था। इसे ध्यान में रखते हुए सकारात्मक प्रतिक्रिया देते हुए सौराष्ट्र के किसानों के व्यापक हित में यह मुख्यमंत्री ने महत्वपूर्ण निर्णय लिया है। उन्होंने कहा कि लिंक-1, 2, 3 और 4 के माध्यम से सड़क में आने वाले तालाबों, चेकडैम, जलाशयों को भरने के लिए सभी योजनाओं को मंजूरी दी गई है।

See also  अहमदाबाद : कांकरिया कार्निवल का समय बदला गया है, जानिए किस समय से मिलेगी एंट्री

सिंचाई से ढाई लाख एकड़ क्षेत्र को लाभ होगा

इस निर्णय से सौराष्ट्र के जलाशयों में 1,52,400 लाख घनफुट फीट पानी भरा जाएगा, जिससे लगभग ढाई लाख एकड़ क्षेत्र को सिंचाई का लाभ मिलेगा। किसानों के हित में राज्य सरकार के इस फैसले से इस क्षेत्र के किसानों को रबी फसल के लिए पर्याप्त पानी मिल सकेगा।

उन्होंने कहा कि इस फैसले से सौराष्ट्र के 10 जिले मोरबी, राजकोट, जामनगर, सुरेंद्रनगर, देवभूमि द्वारका, पोरबंदर, जूनागढ़, भावनगर, गिर सोमनाथ और अमरेली जिले के जलाशयों में नर्मदा का पानी भरा जाएगा। इससे सौराष्ट्र के उक्त जिले के किसानों की सिंचाई क्षमता में काफी वृद्धि होगी।

See also  राजकोट :  उपलेटा में रिवर्स लेते समय जर्जरित पुल पर बस लटक गई और लोगों की जान अधर में पड़ गई!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read